Aapnu Gujarat
તાજા સમાચાર રાષ્ટ્રીય

केजरीवाल के जनता दरबार में रोके गए कपिल मिश्रा ने समर्थको संग किया भजन-कीर्तन

आम आदमी पार्टी के निलंबित नेता कपिल मिश्रा के सीएम अरविंद केजरीवाल पर हमले जारी है । अभी तक जुबानी हमले कर रहे कपिल मिश्रा शुक्रवार सुबह समर्थको के साथ केजरीवाल के जनता दरबार में जा पहुंचे और रोके जाने पर जमकर ड्रामा किया । मिश्रा ने केजरीवाल के घर के सामने ही समर्थको के साथ भजन कीर्तन शुरु कर दिया । कपिल ने कुछ दिन पहले ऐलान किया था कि वह सीएम के जनता दरबार में जाकर वह धोटालो की पोल खोलेगे । शुक्रवार सुबह कपिल मिश्रा अपने करीब २० समर्थको के साथ अंदर जाने पर अड गए । पुलिसकर्मियोने उन्हें इसकी इजाजत नही दी । इसके बाद आप के बर्खास्त मंत्री कपिल समर्थको के साथ पुलिसकर्मियो से भिड गए । वे अंदर जाने के लिए बैरिकेड्‌स पर चढ गए । जनता दरबार में समर्थको के साथ एंट्री न मिलने पर कपिल मिश्रा ने जमीन पर बैठकर कीर्तन शुरु कर दिया । कपिल मिश्रा अपने समर्थको के साथ अब तो कुर्सी छोडो केजरीवाल रघुपति राधव राजा राम जैसे भजन गा रहे थे । सीएम हाउस में एंट्री नहीं मिलने के बाद ही मिश्रा ने उनके घर के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिया है । केजरीवाल के घर के बाहर मिश्रा अपने समर्थको के को लेकर ढोल के साथ पहुंचे और भजन किर्तन शुरु कर दिया । मिश्रा के साथ संतोष कोली की मां भी है । संतोष कोली आम आमदी पार्टी के कार्यकर्ता थे, जिनकी संदिग्ध मौत की जांच करवाने के अरविंद केजरीवाल ने वादा किया था, लेकिन अभी तक ऐसा नहीं हुआ है । इस हंगामे के बीच पुलिस इस बात पर राजी है कि ज्यादा से ज्यादा ३ लोगो को सीएम केजरीवाल से मिलने के लिए अंदर ले जाया जा सकता है । मंत्री पद से हटाने के बाद से ही कपिल केजरीवाल पर हमलावर रुख अपनाए हुए है । कपिल ने कई प्रेस कोन्फ्रेस कर केजरीवाल पर घुस लेने का आरोप लगा चुके है । उन्होंने मंत्री सत्येंद्र जैन की डिग्री फर्जी होने का भी आरोप लगाया है । पार्टी के संस्थापक सदस्यो में से एक रवि श्रीवास्तव ने बताया कि मंत्रीपद से हटाए जाने के बाद कपिल मिश्रा ये सब कर रहे है । कपिल मिश्रा की कोई विश्वसनीयता नहीं है ।

Related posts

IL&FSમાં પ્રોવિડંડ ફંડના હજારો કરોડ ફસાયા : રિપોર્ટ

aapnugujarat

પ્રશાંત કિશોર નીતિશ કુમારને મળ્યા

aapnugujarat

શેરબજારમાં પ્રવાહી સ્થિતિ રહેવાની સંભાવના

aapnugujarat

Leave a Comment

URL