Aapnu Gujarat
તાજા સમાચાર રાષ્ટ્રીય

११ जून से आंदोलन कर सकते हैं छत्तीसगढ़ के किसान

मध्यप्रदेश के बाद अब छतीसगढ़ के किसान भी भाजपा से नाराज लग रहे हैं । यहां के किसान संगठनों ने ११ जून से रमनसिंह सरकार के खिलाफ आंदोलन छेड़ने की चेतावनी दी हैं । किसानों का कहना है कि राज्य सरकार ने पिछले चुनाव के दौरान किए वादों को पूरा नहीं किया हैं । हालांकि आंदोलन पर आमादा किसान मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ बातचीत कर रहे हैं । कुछ किसान नेताओं ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात की हैं । शाह तीन दिनों के छत्तीसगढ़ प्रवास पर हैं । लेकिन मुलाकातों के बावजूद किसानों की समस्या सुलझने की उम्मीद नजर नहीं आ रही हैं । अमित शाह छत्तीसगढ़ में भाजपा को चौथी बार जीत दिलाने का रोडमैप तय करने आये हैं । भाजपा के हेड ओफिस में विधायकों और सांसदों के साथ बैठक के दौरान शाह ने दो टूक कहा कि जो वायदा पूरा ना किया जा सके उसका जिक्र ना किया जाए । जब पार्टी विधायक शिवरतन शर्मा ने पिछले विधानसभा चुनाव में किसानों को दिए आश्वासनों पर खरा ना उतरने की शिकायत की तो उन्हें चुप रहने को कहा गया । शाह ने उनसे कहा कि जो नहीं कर पाए उसकी बात ना करे और जो किया है उसे जनता के बीच लेकर जाए । पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने छत्तीसगढ़ के किसानों से धान का समर्थन मूल्य १२०० रुपये प्रति क्विटंल से बढाकर २१०० रुपये प्रति क्विटंल करने का वायदा किया था । इसके अलावा प्रति क्विटंल बोनस भी २७०रुपये से बढाकर ३०० रुपये करने का भरोसा दिलाया गया था । रमन सिंह ने सत्ता की हैट्रिक बनाई । लेकिन मौजूदा कार्यकाल के तीन साल पूरे होने पर भी ये वायदे हकीकत नहीं बने हैं ।

Related posts

મોદી સરકારે લોકોની મદદ માટે શરૂ કરી સ્વનિધિ યોજના

editor

High tremors of earthquake in North India including Delhi-NCR

aapnugujarat

પોસ્ટ વિભાગ પોસ્ટકાર્ડ, આંતરદેશીય તેમજ કવર કિંમતોના ભાવોમાં વધારો કરવા સજ્જ

aapnugujarat

Leave a Comment

URL