33 C
Ahmedabad
December 3, 2020
Sports

राहुल के चयन पर मांजरेकर को श्रीकांत का जवाब-मुंबई के आगे भी सोचो

Font Size

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज और मुख्य चयनकर्ता रहे कृष्णमचारी श्रीकांत ने लोकेश राहुल के टेस्ट टीम में चयन पर सवाल उठाने वाले संजय मांजरेकर की आलोचना की है। आईपीएल-13 में शानदार फॉर्म में चल रहे राहुल को आस्ट्रेलिया दौरे पर वनडे और टी-20 टीम के साथ टेस्ट टीम में भी जगह मिली है। उनकी टेस्ट में वापसी हुई है। भारत के पूर्व बल्लेबाज मांजेरकर के मुताबिक आईपीएल की फॉर्म पर किसी खिलाड़ी का टेस्ट टीम में चयन करना गलत उदाहरण पेश करता है और यह रणजी ट्रॉफी खिलाड़ियों को हताश करता है।
श्रीकांत ने अपने यूट्यूब चैनल ‘चीकी चीका’ पर कहा, “संजय मांजरेकर का काम सवाल उठाना है, इसलिए उन्हें अकेला छोड़ दो।”उन्होंने कहा, “राहुल के टेस्ट टीम में चयन पर सवाल उठाना? उन्होंने टेस्ट में शानदार खेला है। मैं इससे सहमत नहीं हूं। सिर्फ इसलिए कि संजय किसी चीज पर सवाल उठाना चाहते हैं, मुझे नहीं लगता कि मुझे सहमत होना चाहिए। आपको किसी चीज पर इसलिए सवाल नहीं उठाने चाहिए कि विवाद पैदा हो। राहुल ने तीनों प्रारूप में शानदार खेल दिखाया है। उनके टेस्ट रिकार्ड देखिए।”
राहुल ने अभी तक भारत के लिए 36 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 2,006 रन बनाए हैं। उन्होंने टेस्ट में पांच शतक और 11 अर्धशतक भी लगाए हैं। श्रीकांत ने कहा, “संजय जो कह रहे हैं वो बकवास है। मैं उसे नहीं मानता। राहुल के प्रदर्शन में अनिरंतरता हो सकती है, लेकिन इन्हीं राहुल ने आस्ट्रेलिया में टेस्ट पदार्पण किया था और शतक भी जमाया था। वह तेज गेंदबाजी के अच्छे खिलाड़ी हैं। इस बात को समझिए कि वह तेज गेंदबाजी के अच्छे बल्लेबाज हैं।”
राहुल को पिछले साल वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में खराब प्रदर्शन के बाद हटा दिया गया था। उन्होंने चार पारियों में सिर्फ 101 रन बनाए थे। श्रीकांत ने संजय को सलाह देते हुए कहा कि वह मुंबई के बाहर से आने वाले खिलाड़ियों की सोचें और सिर्फ मुंबई पर ही ध्यान नहीं दें। पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, “संजय मांजरेकर मुंबई के बाहर के बारे में नहीं सोच सकते। यह समस्या है। हम तटस्थ रहकर बात कर रहे हैं। मांजरेकर मुंबई के आगे नहीं सोच सकते। मांजरेकर जैसे लोगों के लिए हर चीज मुंबई, मुंबई और मुंबई। उन्हें इससे आगे सोचना होगा।”विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम 17 दिसंबर से एडिलेड में दिन-रात टेस्ट मैच के साथ चार मैचों की सीरीज की शुरुआत करेगी। भारत ने अपने पिछले आस्ट्रेलियाई दौर पर बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज जीत इतिहास रचा था और इस बार उसकी कोशिश इस ट्रॉफी को बचाने की होगी।

Related posts

2023 विश्व कप तक खेलना मेरा लक्ष्य : फिंच

aapnugujarat

મને શોએબ અખ્તર સામે રમવામાં મુશ્કેલી પડતી હતી : ધોની

aapnugujarat

BCCIના CEO રાહુલ જોહરીનું રાજીનામું સ્વીકારાયું

editor

Leave a Comment

UA-96247877-1