Aapnu Gujarat
તાજા સમાચાર રાષ્ટ્રીય

रजनीकांत की राजनीति का चैन्नई में विरोध शुरु हुआ

सुपरस्टार रजनीकांत के राजनीति में आने के कयासों के बाद जहां समर्थक उत्साहित हैं वही उनका विरोध भी शुरु हो गया हैं । लेकिन इस सुपरस्टार का तमिलनाडु में विरोध भी हो रहा हैं । तमिलर मुनेत्र पडई नामक संगठन ने सोमवार को रजनीकांत के घर के सामने प्रदर्शन किया । तमिलर मुनेत्र पडई संगठन कर्नाटक से ताल्लुक रखऩे वाले रजनीकांत के तमिलनाडु की राजनीति में प्रवेश की खबरों का विरोध कर रहा हैं । संगठन का कहना है कि तमिलनाडु से बाहर का व्यक्ति यहां राज नहीं कर सकता हैं । उल्लेखनीय हैं कि सुपरस्टार रजनीकांत का राजनीति में प्रवेश की खबरे काफी समय से उठ रही थी । हालांकि हर बार इस सुपरस्टार ने उन खबरों को विराम दिया था । लेकिन तमिलनाडु में एआईएडीएमके की नेता जे जयललिता के निधन और डीएमके सुप्रीमों एम करुणानिधि की बीमारी के बाद रजनीकांत के समर्थक राज्य की राजनीति में खाली शून्य को उनसे भरने की अपील कर रहे हैं । रजनीकांत के प्रशंसकों द्वारा पूरेे तमिलनाडु में पोस्टर लगाकर उनसे राजनीति में आने , नेतृत्व करने और तमिलनाडु को बचाने की अपील करने वाले पोस्टर लगाना आम बात हैं । एआईजीएमके को छोड़कर कई राजनीतिक दल उनसे अपने दल में शामिल होने का अनुरोध कर चुके हैं । रजनीकांत ने हाल में कहा था कि राजनीति में आने की उनकी कोई इच्छा नहीं हैं । लेकिन अगर वह राजनीति में आएंगे तो पैसे के पीछे भागने वाले लोगों को बाहर का रास्ता दिखा देंगे । उन्हें राजनीतिक बहसों में आम तौर पर घसीटा जाता रहा जबकि उन्होंने कई बार जोर देकर कहा कि वह न तो प्रभावशाली नेता हैं और न ही सामाजिक कार्यकर्ता । रजनीकांत के राजनीति में प्रवेश की अटकलें १९९६ से लग रही हैं । यह पहली बार नहीं हैं । १९९६ में उन्होंने जनता से सार्वजनिक रुप से कहा था कि वे जयललिता के पक्ष में मतदान ना करें । अम्मा उस समय विधानसभा चुनाव हार गई थी और द्रमुक- टीएमसी (तमिल मनीला कांग्रेस) को भारी जीत मिली थी ।

Related posts

બિહાર લોકસભા ચૂંટણીઃ કોંગ્રેસ-આરજેડી વચ્ચે બેઠક ફાળવણી મુદ્દે અસમંજસ !!

aapnugujarat

इतिहास के अपने ज्ञान पर मंथन करें गृह मंत्री : मनीष तिवारी

aapnugujarat

वियतनाम के साथ नौसेना अभ्यास करेगा भारत

aapnugujarat

Leave a Comment

URL