Aapnu Gujarat
રાષ્ટ્રીય

इसरो 28 फरवरी को लॉन्च होगा PSLV-C51 मिशन

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने ट्वीट कर जानकारी दी कि उसने PSLV-C51 रॉकेट के लॉन्चिंग को लेकर रिहर्सल पूरी कर ली है और अब 28 फरवरी सुबह 10 बजकर 24 मिनट पर इस रॉकेट की लॉन्चिंग की जाएगी। PSLV-C51 भारतीय पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल प्रोग्राम का 53 वां मिशन है। हाल ही में गठित न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (NSIL) के अपने पहले समर्पित वाणिज्यिक मिशन में, इसरो 28 फरवरी को श्रीहरिकोटा के स्पेसपोर्ट से ब्राजील के Amazonia-1 और 20 अन्य उपग्रहों को लॉन्च करेगा। इसरो ने कहा कि उपग्रहों को अंतरिक्ष एजेंसी के रॉकेट PSLV-C51 का उपयोग करके 28 फरवरी को साढ़े दस बजे मौसम की स्थिति को ध्यान में रखते हुए लॉन्च किया जाएगा।
PSLVC51 एनएसआईएल का पहला समर्पित वाणिज्यिक लॉन्च मिशन है। इसरो ने साफ किया है कि Amazonia-1 सैटेलाइट इस मिशन का प्राइमरी पेलोड होगा। यह पहला अर्थ ऑब्जरवेशन सैटेलाइट है, जिसे पूरी तरह ब्राजील ने विकसित किया है। इसरो ने ट्वीट कर बताया कि यह ब्राजील का पहला उपग्रह है जिसे भारत लॉन्च करेगा। Amazonia-1 राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (INPE) का ऑप्टिकल अर्थ ऑब्जरवेशन उपग्रह है। यह उपग्रह अमेजन क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी डेटा प्रदान करके मौजूदा संरचना को और मजबूत करेगा। इसके साथ 20 अन्य उपग्रहों को भी इस पीएसएलवी रॉकेट से लॉन्च किया जाएगा। इसमें एक उपग्र इसरो का, चार उपग्रह IN-SPACe के और 15 उपग्र एनएसआईएल के भेजे जाएंगे।
पीएसएलवी-सी51 पीएसएलवी का 53वां मिशन होगा। साल 2021 में यह इसरो का पहला मिशन होगा। वहीं, इसकी लॉन्चिंग के साथ सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से यह 78वां मिशन लॉन्च किया जाएगा। इससे पहले 17 दिसंबर 2020 को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से पीएसएलवी-सी50 रॉकेट द्वारा भारत के संचार उपग्र सीएमएस-01 को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया था।

Related posts

કોર્પોરેટ લોબિંગને પ્રોત્સાહન આપતું નીતિ આયોગ બદલો : મજદૂર સંઘ

aapnugujarat

उत्तरप्रदेश में चार बड़े अफसरों पर आयकर विभाग का छापा

aapnugujarat

12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म केस में 2 महीने में शुरू हो ट्रायल : गृहमंत्री

aapnugujarat

Leave a Comment

URL