26 C
Ahmedabad
October 31, 2020
National

पहले नवरात्र पर पटरियों पर उतरी तेजस एक्सप्रेस

Font Size

कोरोना के कारण पिछले सात महीने से बंद कारपोरेट सेक्टर की तेजस एक्सप्रेस आज से लखनऊ दिल्ली के बीच दौड़ने लगी। आधुनिक सुविधाओं से लैस तेजस आज सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर लखनउऊ से रवाना हुई जो 12 बजकर 25 मिनट पर दिल्ली पहुंचेगी और वापसी में दिल्ली से 3 बजकर 35 मिनट पर चल कर रात 10 बजकर 05 मिनट पर लखनऊ आयेगी। तेजस में यात्रियों को एयर होस्टेस की तरह ट्रेन होस्टेस उनकी सीट पर खाना ,नाश्ता या चाय देती नजर आयेंगी। नये नियमों के तहत यात्रियों को मुफ्त सुरक्षा किट मिलेगी। एक सीट छोड़ कर यात्री बैठ सकेगें। बता दें कि एक साल पहले 5 अक्टूबर को लखनऊ से नई दिल्ली के ट्रेन तेजस की शुरुआत हुई थी। यह देश की पहली ऐसी ट्रेन है जिसके लेट होने पर यात्रियों को मुआवजा देने का प्रावधान है। इसके बाद 2020 जनवरी 17 से अहमदाबाद-मुंबई के बीच दूसरी प्राइवेट ट्रेन शुरू हुई थी। तेजस एक्सप्रेस को एक बार फिर शुरू करने के साथ ​ही IRCTC ने नई गाइडलाइंस भी जारी की हैं। ऐसे में आपके ​लिए नियमों के बारे में जानना जरूरी है।
सभी यात्रियों को ट्रेन में सफर करने से पहले उनके शरीर के तापमान की जांच (थर्मल स्क्रीनिंग) की जाएगी। एक बार यात्रियों के बैठ जाने के बाद उनकी सीट की अदला-बदली नहीं होगी। सभी यात्रियों को कोविड-19 सुरक्षा किट दी जाएगी। जिसमें हैंड सैनिटाइजर, एक मास्क, एक फेस शील्ड और एक जोड़ी ग्लव्स शामिल हैं। ट्रेन के सभी डिब्बों को नियमित तौर पर स्वच्छ किया जाएगा। यात्रियों के सामान को भी ट्रेन के कर्मचारी सैनिटाइज करेंगे। सभी यात्रियों को आरोग्य सेतु इंस्टाल करना होगा।
भारतीय रेलवे ट्रेन रिजर्वेशन चार्ट के नियमों में बदलाव करने जा रहा है। 10 अक्टूबर से रेलवे का दूसरा रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन के छूटने से 30 मिनट पहले ही बनेगा। हांलाकि कोरोना दौर में चार्ट 2 घंटे पहले बनाया जा रहा है। अब 10 अक्टूबर से दोबारा से नियम में बदलाव होने के बाद से दूसरा रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन छूटने के समय से 30 मिनट पहले बनेगा। दूसरा चार्ट तैयार होने से पहले टिकट बुकिंग की सुविधा ऑनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों पर उपलब्ध रहेगी। 10 अक्टूबर से रिजर्वेशन का पहला चार्ट ट्रेन छूटने से कम से कम 4 घंटे पहले तैयार किया जाएगा। इसमें खाली सीटें या बर्थ की बुकिंग अन्य यात्री ऑनलाइन या काउंटर से करा सकेंगे।

Related posts

લાખોની ફી લેતાં વકીલ હરીશ સાલ્વેએ કુલભૂષણને બચાવવા લીધી માત્ર ૧ રુપિયાની ફી

aapnugujarat

રેલ-રોડ નહીં હવે વોટર વેનો જમાનો છે : નવી મુંબઈ વિમાની મથકનું ભૂમિપૂજન કર્યા બાદ સંબોધન

aapnugujarat

પાસપોર્ટની અરજી વખતે પોલીસ વેરિફિકેશન થશે ઓનલાઇન

aapnugujarat

Leave a Comment

UA-96247877-1