26 C
Ahmedabad
October 31, 2020
Uncategorized

भारत के ताइवान को समर्थन पर चीन को लगी मिर्ची

Font Size

चीन की आक्रमकता दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। एक तरफ ड्रैगन भारत के साथ बातचीत से सीमा विवाद हल करने के दावे कर रहा है लेकिन दूसरी तरफ लगातार धमकियां दे रहा है। अब चीन ने ताइवान को लेकर भारत को गीदड़भभकी दे डाली है। दरअसल चीन लंबे समय से ताइवान पर अपना दावा करता आया है और ताइवान का समर्थन करने वाले दूसरे देशों को भी धमकाता रहता है।
इस बीच भारत में ताइवान को लेकर बढ़ता समर्थन देख चीन तिलमिला उठा है। चीनी अखबार ने तो भारत को सीधी धमकी दी है कि अगर भारतीय शक्तियां ताइवान को लेकर खेलती हैं तो चीन पूर्वोत्तर यानि सिक्किम को भारत से अलग करने की कार्रवाई कर सकता है। “अगर भारत की सामाजिक ताकतें ताइवान के मुद्दे पर खेलती हैं, तो उन्हें पता होना चाहिए कि हम पूर्वोत्तर भारत में अलगाववादी ताकतों का समर्थन कर सकते हैं और सिक्किम को अलग कर सकते हैं।
इन तरीकों से हम जवाबी कदम उठा सकते हैं। भारतीय राष्ट्रवादियों को आत्मचिंतन करना चाहिए. उनका देश नाजुक है। ” बता दें कि भारतीय मीडिया ने ताइवान के विदेश मंत्री जोसफ वू का इंटरव्यू लिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि ताइवान कभी चीन का हिस्सा नहीं रहा। इसके साथ ही उन्होंने दुनियाभर के लोगों से ताइवान के अस्तित्व को स्वीकार करने की भी अपील की थी। इसके बाद भारत में मौजूद चीनी दूतावास ने भी आपत्ति जताई थी और कहा था कि ताइवान को मंच देने से वन-चाइना पॉलिसी का उल्लंघन हुआ है ।

Related posts

NDFB से शांति समझौते के बाद पूर्वोत्तर से सेना को हटाने की तैयारी

aapnugujarat

ગલવાન ઝપાઝપીના 21 દિવસ પછી ચીનની LAC પર 2 કિમી પીછેહઠ

editor

भारत नंबर-1 टीम है : पोलार्ड

aapnugujarat

Leave a Comment

UA-96247877-1