Aapnu Gujarat
રમતગમત

भारत-बांग्लादेश सेमीफाइनल में आज दिलचस्प मुकाबला

भारत आज आईसीसी चैपियंस ट्रोफी के दूसरे सेमीफाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ मैदान पर उतरेगा तो दोनों टीमों के बीच एक दिलचस्प मुकाबला देखऩे को मिल सकता हैं । कागजो पर भारत इस मैच को जीतने का प्रबल दावेदार हैं । लेकिन क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल हैं और ऐसे में बांग्लादेश को जीत का दावेदार नहीं मानना गलत होगा । इंडियन टीम के खिलाफ किसी तरह की भी ढिलाई बरतने से बचना चाहेगी । खासकर बांग्लादेश ने जिस तरह से लीग स्टेज में न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार वापसी करके जीत दर्ज की उसे देखने हुए कोई भी टीम उसको कमजोर मानने की गलती नहीं करेगा । इस जीत से बांग्लादेश ने सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए अपनी राह तैयार की थी । साउथ आफ्रिका के खिलाफ शानदार परफॉर्म करने के बाद इंडियन टीम भी कॉन्फिडेंस से भरी हैं और वह अपनी यही फार्म बरकरार रखकर बांग्लादेश को कड़ा सबक सिखाने की कोशिश करेगी । भारत के बल्लेबाज फार्म में है, बोलर्स अच्छा परफोर्म कर रहे हैं और फिल्डिंग भी बेहतरीन हैं । कुल मिलाकर विराट कोहली की टीम अभी खेल के तीनों डिपार्टमेन्ट में अव्वल नजर आ रही हैं । ऐसे में किस्मत के भरोसे सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली मशरेफी मुर्तजा की टीम को जीत दर्ज करने के लिए एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउन्ड पर कुछ खास परफॉर्मस करके दिखाना होगा । भारत खिताब का दावेदार है और इससे कम पर वह कतई संतुष्ट नहीं हो सकता है जबकि बांग्लादेश अगर कल जीत दर्ज कर लेता है तो उसके लिए यह अपने क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी जीत में से एक होगी । बांग्लादेश इससे पहले ऑस्ट्रेलिया, साउथ अफ्रीका और इंग्लैंड जैसी टीमो को हरा चुका हैं और यह टीम ऐसा उलटफेर करने में माहिर हैं ।भारत अगर जीत दर्ज कर लेता है तो फिर भी उसे उस तरह का क्रेडिट नहीं मिलेगा जैसा कि ओस्ट्रेलिया दक्षिण आफ्रिका और इंग्लैंड के खिलाफ जीतने पर मिलता हैं । लेकिन अगर उसे हार का सामना करना पड़ता है तो आलोचको को बहान मिल जाएगगा और फिर से मैदान के बाहर के मसले जैसे अनिल कुंबले और विराट कोहली के बीच कथित मतभेदों की बात उठने लगेगी ।

Related posts

રેસલિંગ ફેડરેશન ઓફ ઈન્ડિયાએ વિનેશ ફોગાટ, બજરંગ પૂનિયા, હિના સિદ્ધૂ, અંકુર મિત્તલને ખેલ રત્ન આપવાની ભલામણ કરી

aapnugujarat

હવે મેચ રમવા ભારતને નહીં કહીએ : પીસીબી

editor

धोनी को नंबर 7 पर भेजना सिर्फ मेरा फैसला नहीं था : बांगर

aapnugujarat

Leave a Comment

URL