Aapnu Gujarat
બિઝનેસ

ओला, उबर से टक्कर, दिल्ली में टैक्सी चालको ने शुरु की सेवा कैब

बाजार प्रतिस्पर्धा अगर ग्राहको के हक में है तो राष्ट्रीय राजधानी में टैक्सी सेवा लेने वालों के लिए अच्छी खबर है । मोबाइल एप आधारित टैक्सी सेवा प्रदाता ओला और उबर की कमीशन निती से परेशान दिल्ली के कुछ टैक्सी चालकी ने लोगो को टैक्सी सुलभ कराने की मोबाइल संचार प्रौद्योगिकि पर आधारित नया उद्यम सेवा कैब चालु किया है जिसमें बडी संख्या में टैक्सी चालक जुड रहे है । सेवा कैब का किराया ५ रुपये किलोमीटर से शुरु होता है । इसकी खासियत यह है कि इसमें ऐप के जरिए बुक के साथ आप सेवा ड्राइवर को रास्ते में रोक कर भी यात्रा कर सकते है । इस स्टार्ट अप ने नेटवर्क पर सर्ज प्राइसिंग यानी मौका ताड कर दाम बढाने की नीति लागु नहीं करने का निर्णय किया है । ९ चालको की संचालन परिषद चालक शक्ति द्वारा संचालित यह सेवा १ मई से शुरु हो चुकी है और जुलाई के मध्य में इसकी औपचारिक शुरुआत होगी । चालक शक्ति टैक्सी चालकों का संगठन है । सेवा कैब के सह संस्थापक और सामाजिक कार्यकर्ता राकेश अग्रवाल ने कहा, चालक ओला और उबर की नीतियो से परेशान थे । विदेंशो से वित्त घोषित दोनो कंपनियों ने शुरु में चालको को प्रोत्साहन के रुप में प्रलोभन दिया लेकिन बाद में उनकी नीतियां बदल गई । ये दोनो कंपनियां चालको से हर बुकिंग का लगभग २७ प्रतिशत वसुल लेते है । इसमें २० प्रतिशत कमीशन, ६ प्रतिशत सेवा कर और १ प्रतिशत स्त्रोत पर कर कटौती के रुप में लिया जाता है । उन्होंने कहा, इससे चालको को अपनी कमाई का २७ प्रतिशत यानी करीब १५,००० रुपये से अधिक हर महीने उक्त कंपनियां को देना पडता है । अग्रवाल ने कहा कि अबतक करीब २००० चालक इससे जुडे है और १० जुलाई तक इसके ३००० तक पहुंच जाने का अनुमान है । उल्लेखनीय है कि ओला और उबर से जुडे चालको ने कमीशन में कमी लिए जाने की मांग तथा कंपनियो द्वारा दिए जाने वाले प्रोत्साहनो में लगातार कमी समेत अन्य मुद्दो को लेकर हाल ही में दिल्ली और कुछ अन्य शहरों में हडताल की थी ।

Related posts

FMCG કંપનીઓએ 10 ટકા ભાવવધારો ઝીંકી દીધો

aapnugujarat

ભારતમાં માત્ર 0.2 ટકા ઈન્વેસ્ટરો 75 ટકા જેટલું સ્ટોક ટ્રેડિંગ કરે છે

aapnugujarat

PNB को लगा 3688 करोड़ का चूना

editor

Leave a Comment

UA-96247877-1