Aapnu Gujarat
બિઝનેસ

माल्या से लोन रिकवरी की उम्मीद बहुत कमः एसबीआई

स्टेट बैंक ओफ इंडिया की एक इंटरनल रिपोर्ट में कहा गया है कि बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइंस से लोन रिकवरी की संभावना बहुत कम है । देश के सबसे बडे बैंक को इस लोन अकाउंट से करीब ९०० करोड रुपये का नुकसान हो सकता है । एसबीआई की अगुवाई में १४ बैंको का विजय माल्या की एयरलाइन कंपनी में एक्सपोजर ५००० करोड रुपये से अधिक है । इसमें ब्याज की रकम शामिल नही है । वहीं, एसबीआई का फंड बेस्ट एक्सपोजर करीब १२०० करोड रुपये का है, जिसमें से ज्यादातर रकम के रिकवर होने की उम्मीद नहीं है । एसबीआई के प्रवक्ता ने इस बारे में बताया, बैंक इंडिविजुअल लोन अकाउंट्‌स के बारे में कोमेंट नही करता । किंगफिशर लोन डिफोल्ट मामले में एक्शन लेने के लिए सरकार माल्या को ब्रिटेन से देश लाने की कोशिश कर रही है । कथित मनी लोन्ड्रिग के मामले में पुछताछ के लिए भी जांच एजेंसियो को उनकी तलाश है । हालांकि, माल्या ने किसी भी गडबडी के आरोप से इनकार किया है । एसबीआई की यह रिपोर्ट तीन महीने पुरानी है, जिसे ईटी ने भी देखा है । इसमें कहा गया है कि माल्या ने १५६५ करोड रुपये की संपत्ति लोन के लिए गिरवी रखी थी, जिसे बेचने से ११०० करोड रुपये रिकवर किए जा सकते है । इसमें गोवा में माल्या का किंगफिशर विला भी शामिल है, जिसे अप्रैल में ७३ करोड रुपये में बैंको ने बेचा था । बैंक ने इसकी मार्केट वैल्यु ८५ करोड रुपये लगाई थी । इस रिपोर्ट से वाकिफ एक सिनियर बैंक एग्जिक्युटिव ने बताया, किंगफिशर एयरलाइंस के ब्रैड्‌स के खरीदार नहीं मिल रहे है, जिनकी वैल्यु ३१५ करोड रुपये तक लगाई गई है । ब्रैड्‌स को तो भुल ही जाइए, अब तक तो हम मुंबई में किंगफिशर हाउस जैसी रियल एस्टेट संपत्ति को नहीं बेच पाए है । पिछले महीने इस संपत्ति को बेचने के लिए पांचवी नीलामी हुई थी, लेकिन रिजर्व प्राइस को घटाकर ९३.५० करोड रुपये करने के बावजुद इसके लिए कोई खरीदार नहीं मिला था । शुरु में इसके लिए रिजर्व प्राइस १०७ करोड रुपये रखा गया था ।

Related posts

ભારતીય કંપની ટીસીએસનો અત્યાર સુધીનો સૌથી મોટો આઉટસોર્સિંગ સોદો

aapnugujarat

મોદીના કાર્યકાળમાં શેર બજારમાં ૧૩ ટકાનો વધારો : સુરેશ પ્રભુ

aapnugujarat

એરિક્શનને પૈસા ચુકવી દેવા આરકોમ આશાવાદી

aapnugujarat

Leave a Comment

URL