Aapnu Gujarat
તાજા સમાચાર રાષ્ટ્રીય

देश के सबसे वजनी रोकेट जीएसएलवी मार्क-३ का प्रक्षेपण

भारतीय अंतरिक्ष संगठन ने भारी भरकम सैटेलाइट लोन्च वीइकल जीएलएलवी मार्क-३ के प्रक्षेपित कर एक और बडी उपलब्धि हासिल कर ली है । भारत के सबसे वजनी रोकेट को सोमवार को शाम ५ः२८ बजे श्रीहरिकोटा से लोन्च किया गया । इसका वजन करीब ६४० टन है । यह भुस्थैनिक कक्षा में ४००० किलो तक का पेलोड ले जा सकता है । जीएसएसलवी मार्क-३ अन्य देशो के चार टन श्रेणी के उपग्रहो को प्रक्षेपित करने की दिशा में भारत के लिए अवसर खोलेगा । इसरो के चेयरमैन एएस किरन कुमार ने लोन्च से पहले बताया की जीएसएलवी मार्क-३ को लोन्च करने का मुख्य उद्देश्य ज्यादा वजन वाले कम्युनिकेशन सैटलाइट जीएसएटी-१९ को जीटीओ में प्रवेश कराना है । जीएसएलवी मार्क-३ लोन्च करने के लिए उच्च गति वाले क्रायोजेनिक इंजन का इस्तेमाल किया गया है । बता दे कि करीब ३० साल की रिसर्च के बाद इसरो ने यह इंजन बनाया था । इसरो के पूर्व प्रमुख के राधाकृष्ण ने कहा कि यह प्रक्षेपण बडा मील का पत्थर है क्योकि इसरो प्रक्षेपण उपग्रह की क्षमता २.२-२.३ टन से करीब दोगुना करके ३.५-४ टन कर रहा है । उन्होंने कहा कि आज अगर भारत को २.३ टन से अधिक के संचार उपग्रह का प्रक्षेपण करना हो तो हमे इसके प्रक्षेपण के लिए विदेश जाना पडता है । जीएसएलवी मार्क तीन कामकाज शुरु करने के बाद हम संचार उपग्रहो के प्रक्षेपण में आत्मनिर्भर हो जाएगे और विदेशी ग्राहको को लुभाने में भी सफल होगे ।

Related posts

વૈષ્ણોદેવીના રસ્તા પાસે લાગી ભીષણ આગ, બંધ કર્યો નવો રસ્તો

aapnugujarat

निर्भया केआरोपी की फासी की सजा बरक़रार

aapnugujarat

તેલ કિંમતમાં ઉછાળા વચ્ચે દલાલ સ્ટ્રીકમાં ભારે ઉથલપાથલ થઇ શકે

aapnugujarat

Leave a Comment

URL