Aapnu Gujarat
બિઝનેસ

जंगी वेतन वृद्धि पर आईटी कर्मियों के दो संगठन नाराज

आईटी कर्मचारियों के दो समूहों ने इन्फोसिस के शीर्ष कार्यकारियों के वेतन पैकेज में भारी भरकम बढोतरी पर चिंता जताई हैं । इन समूहों ने कहा है कि साफ्टवेयर क्षेत्र की दिग्गज कंपनी का यह कदम इस दृष्टि से काफी दर्द जेने वाला है कि एक तरफ उद्योग में कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है और दूसरी तरफ भारी भरकम वेतन वृद्धि की गई है । इन्फोसिस की वर्ष २०१७ की वार्षिक रपट के अनुसार कंपनी के कम से कम चार कार्यकारियों के पैकेज में इससे पिछले वित्त वर्ष की तुलना में ५० प्रतिशत का इजाफा हुआ है । इसका ब्योरा कंपनी की वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया हैं । आईटी कर्मचारियों के मंच एफआईटीई के महासचिव एजे विनोद ने कहा कि साल दर साल आईटी कंपनियां अपने पेशेवरों को बर्खास्त करती आ रही है और साथ में वे शीर्ष कार्यकारियों का वेतन बढा रही है । यह वेतन आकर्षक चैरिएबल और शेयर प्रोत्साहन के नाम पर दिया जा रहा है । विनोद ने कहा कि वे उन राजनीतिज्ञों की तरह है जो लोगों की समस्या पर चिंता किए बिना अपने वेतन बढा लेते हैं । एफआईटीई की मौजूदगी चेन्नाई, पुणे और बेंगलुरु समेत नौ आईटी हब में हैं । न्यू डेमोक्रेटिक लेबर फ्रंट (एनडीएलएफ) के कानूनी सलाहकार सुरेश ने कहा कि इन्फोसिस सहित अन्य कंपनियों के शीर्ष कार्यकारियों को समझना चाहिए उन्हें यह वेतनवृद्धि उनके कर्मचारियों की रोजाना १० से १२ घंटे की मेहनत की वजह से मिल रही है ।

Related posts

सेंसेक्स 689 अंक और निफ्टी 189 अंक लुढ़का

aapnugujarat

कंपनियों को मिल सकता है २५ पर्सेंट कॉर्पोरेट टैक्स का फायदा : निर्मला सीतारमण

aapnugujarat

સેંસેક્સ ૨૧૬ પોઇન્ટ ઘટી ૩૫૦૦૦થી નીચે પહોંચ્યો

aapnugujarat

Leave a Comment

URL