Aapnu Gujarat
તાજા સમાચાર રાષ્ટ્રીય

राष्ट्रपति ने इंदिरा गांधी को बताया सबसे स्वीकार्य पीएम

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने स्वर्गीय इंदिरा गांधी को भारत की सबसे स्वीकार्य प्रधानमंत्री बताया है । साथ ही उन्होंने इंदिरा गांधी के फैसले लेने की क्षमता को भी याद किया ।
इंदिरा गांधी के जीवन पर आधारित एक किताब को विमोचन करते हुए राष्ट्रपति ने ये बातें कहीं । इस दौरान उन्होंने हार के दौर से गुजर रही कांग्रेस को इंदिरा गांधी का उदाहरण देते हुए नसीहत की । कार्यक्रम में बोलते हुए राष्ट्रपति मुखर्जी ने इंदिरा गांधी की नेतृत्व क्षमता की भी तारीफ की । उन्होंने कहा कि १९७८ में कांग्रेस में दूसरी बार विभाजन हुआ । बावजूद इसके राज्य विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने शानदार जीत दर्ज की । राष्ट्रपति ने इंदिरा गांधी को २०वीं सदी की महत्वपूर्ण हस्ती बताया । उन्होंने कहा कि भारत के लोगों के लिए अभी भी इंदिरा गांधी सबसे ज्यादा स्वीकार्य शासक या प्रधानमंत्री हैं । राष्ट्रपति मुखर्जी ने अतीत को याद करते हुए कहा, १९७७ में कांग्रेस हार गयी थी । मैं उस समय कनिष्ठ मंत्री था । उन्होंने मुझसे कहा था कि प्रणव, हार से हतोत्साहित मत हो । यह काम करने का वक्त है और उन्होंने काम किया । इस दौरान मंच पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद थे । मुखर्जी ने इंदिरा गांधी के कार्यो पर आधारित एक किताब का विमोचन किया । इस किताब का नाम इंडियाज इंदिरा – ए सेंटेनियल ट्रिब्यूट है । इस किताब की प्रस्तावना कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लिखी हैं । वहीं तबीयत खराब होने के चलते सोनिया गांधी में देशभक्ति का जो जज्बा देखा वह श्रेष्ठ था, जो उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम से आत्मसात किया था ।
इंदिरा गांधी एक मित्र और सलाहकार थीं । उन्होंने अपनी इच्छाएं मेरे ऊपर नहीं थोपीं । इंदिरा गांधी पद, जाति और संप्रदाय जैसे भेदभाव को नापसंद करती थीं । उन्हें भारतीय होने का गर्व था ।

Related posts

મોદી અને યોગી પર કેમિકલ એટેકનો ખતરો..!!

aapnugujarat

अगर चीन के साथ युद्ध हुआ तो पाकिस्तान भी जंग करने मैदान में कूद जाएगा : पंजाब मुख्यमंत्री

editor

અખિલેશને ફટકો : માયા પેટાચૂંટણીથી દૂર જ રહેશે

aapnugujarat

Leave a Comment

URL