Aapnu Gujarat
રાષ્ટ્રીય

इस साल आम आदमी की पहुंच से दूर होगा आम

इस साल धूल भरी तेज आंधी चलने के कारण उत्तर प्रदेश में आम की पैदावार ६५ पर्सेंट घट सकती है । लिहाजा इस बार आम बेहद खास होने जा रहा है और इसका जायफा लेने के लिए आपको जेब काफी ढीली करनी पड सकती है । उत्तर प्रदेश में आण की पैदावार करने वालों का अनुमान है कि इस साल आम का उत्पादन केवल १५ लाख टन हो सकता है, जो पिछले साल ४४ लाख टन था । ऑल इन्डिया मैंगो ग्रोअर्स असोसिएशन (एआईएमजीए) के प्रेसिडेंस इंसराम अली ने बताया, पिछले साल आम की रेकॉर्ड ४४ लाश टन पैदावार हुई थी, मगर इस बार स्थिति बिल्कुल उलट है, क्योंकि इस साल प्रॉडक्शन ६५ प्रर्सेंट घट सकता है । इस साल १५ लाख टन उत्पादन हो जाए तो बडी बात होगी । उन्होंने कहा कि इस बार अनुमान से पहले ही लगातार पुरवा हवा चल रही है, जिससे आम में रज्जी (एक तरह की बीमारी) लग गई है । आम के काश्तकारों को पेडों पर दवा का छिड़काव सामान्य से दोगुना अधिक करना पड रहा है । पहले से परेशान आण काश्तकारों के लिए रही सही कसर आंधी ने पुरी कर दी है । अली ने बताया कि आम की पैदावार में करीब ६५ पर्सेंट की भारी गिरावट के मद्देनजर यह तय है कि इस बार आम लोगों के लिए आम खरीदना मुश्किल होगा । उत्तर प्रदेश में करीब ढाई लाख हेक्टेयर क्षेत्र में फैले बागों में आम का उत्पादन होता है । यह पट्टी दशहरी आम उत्पादन के लिए मशहूर लखनऊ के मलीहाबाद, बुलंदशहर, सहारनपुर, बाराबंकी, प्रतापगढ, हरदोई के शाहाबाद, उन्नाव के हसनगंज, अमरोहा तक फैली है, लेकिन इस बार यहां के आम के बागों के मालिक मायूस हैं ।

Related posts

तीन तलाक पर एनडीए सरकार ने लिया यु-टर्न

aapnugujarat

વડાપ્રધાન મોદી બંગાળમાં ૨૦, આસામમાં ૬ ચૂંટણી રેલી કરશે

editor

નેત્રંગ પાસે ગમખ્વાર અકસ્માત સર્જાતાં ત્રણનાં મોત

aapnugujarat

Leave a Comment

URL